संदेश

बालगीत

हरिवंश राय बच्चन जी द्वारा रचित पीर बीर फत्ते बाल गीत इक रहें ईर एक रहेंन बीर एक रहें फत्ते एक रहें हम ईर कहेंन चलो लकड़ी काट आई बीर कहेंन   चलो लकड़ी काट आई फत्ते कहेंन   चलो लकड़ी काट आई हम कहें चलो, हमहू लकड़ी काट आई । ईर काटें ईर लकड़ी बीर काटें बीर लकड़ी फत्ते काटें तीन लकड़ी हम काटा करिलिया   । ईर कहिन्   चलो गुलेल बनाई बीर   कहिन्   चलो गुलेल बनाई फत्ते   कहिन्   चलो गुलेल बनाई हम कहा चलो, हमहू गुलेल बनाई । ईर बनायेन ईर गुलेल बीर बनायेन बीर गुलेल फत्ते बनायेन तीन गुलेल और हमार कट-कुट गयेयी । ईर कहेंन चलो चिड़िया मार आई बीर कहेंन चलो चिड़िया मार आई फत्ते कहेंन चलो चिड़िया मार आई हम कहा चलो, हमहू चिड़िया मार आई । ईर मारेंन ईर चिड़िया बीर मारेन बीर चिड़िया हम मारा ....फुदकिया । ईर कहेंन चलो भूंजी पकाएं बीर कहेंन चलो भूंजी पकाएं फत्ते कहेंन चलो भूंजी पकाएं हम कहा, हमहू भूंजी पकाएं । ईर भुन्जेंन ईर चिड़िया बीर भुन्जेंन बीर चिड़िया फत्ते भुन्जेंन तीन चिड़िया हमार जल-जुल गयी   । ईर कहेन चलो राजा के सलाम करी आई बीर कहेन चलो राजा के सलाम करी आई फत्ते कहेन चलो राजा के सलाम करी आई हम कहा हमहू चलो, राजा के

महिला बाल विकास विभाग द्वारा आयोजित पोषण सभा में पहुंचे माननीय मुख्यमंत्री कमलनाथ जी

चित्र
दिनांक 21 सितंबर 2019 को मध्य पूर्व क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के तरंग सभागार में आयोजित पोषण सभा में 👉 उपस्थित हुए जहां माननीय मुख्यमंत्री जी द्वारा महिला बाल विकास द्वारा लगाई गई पोषण व्यंजनों की प्रदर्शनी तथा श्री एन एस तोमर संयुक्त संचालक महिला बाल विकास के मार्गदर्शन में बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ पर केंद्रित प्रदर्शनों का अवलोकन किया , बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान के संकल्प पत्र पर भी हस्ताक्षर किए गए   माननीय मुख्यमंत्री जी द्वारा इस अवसर पर कुमारी मुस्कान किरार आत्मजा श्रीमती माला किरार एवम श्री वीरेंद्र किरार को बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ के ब्रांड एंबेसडर के रूप में तथा कुमारी उन्नति तिवारी आत्मजा श्रीमती शोभना श्री गौरी शंकर तिवारी को पॉक्सो ब्रांड एंबेसडर के रूप में क्राउन पहनाकर सम्मानित किया गया । क्रम के अंतर्गत ई सी ई केंद्रों के कार्यों से संबंधित सारेगामा गायन प्रतियोगिता में सम्पूर्ण देश में प्रथम स्थान प्राप्त करने वाली और लाडो अभियान की पूर्व ब्रांड एम्बेसेडर इशिता विश्वकर्मा को भी सम्मानित किया ।   वृत्तचित्र का विमोचन ईसीई गतिविधियों पर केंद्रित वृतचित्र ( निर्देश

नेत्रज्योति विहीन पर स्वर सामर्थ्य से युक्त हैं हम...!

चित्र
*नेत्र दिव्यांग छात्राओं के लिए संकल्पित बालभवन जबलपुर* हाल ही स्वच्छ भारत अभियान के लिए इस बार बालभवन ने एक जबरदस्त प्रयोग किया । इस प्रयोग में नेत्रहीन कन्या विद्यालय की 23 बालिकाओं को स्वच्छ भारत अभियान पर केंद्रित समूह गीत गायन का प्रशिक्षण दिया गया है । स्मरण हो विगत वर्ष संभागीय बाल भवन जबलपुर द्वारा नेत्र दिव्यांग बेटियों को संगीत सिखाने की मुहिम छेड़ रखी है इस संगीत कक्षा का शुभारंभ नि:शक्तजन कल्याण मंत्री श्री लखन घनघोरिया जी ने किया था । और इस वर्ष हमने इन बेटियों को विधिवत एक प्रोफेशनल ग्रुप के रूप में तैयार भी कर दिया है । *संगीत प्रशिक्षण का संकल्प कैसे साकार हुआ* भंवरताल स्थिति नेत्रहीन विद्यालय जो एक आवासीय संस्थान है में संगीत के उपकरणों की प्राथमिक ज़रूरत को पूर्ण करने के उपरांत ही बालिकाओं को संगीत की विधिवत शिक्षा दी जा सकती थी अतः यह समस्या सहज ही मेरे 89 वर्षीय पिता श्री काशीनाथ जी बिल्लोरे एवं मेरे बड़े भाई श्री सतीश बिल्लोरे जी ने हाल कर दी । तदुपरांत बालभवन से जोड़कर प्रशिक्षण प्रारम्भ किया गया । बालिकाओं को संगीत सिखा कर उन्हें प्रोफेशन

प्रधानमंत्री राष्ट्रीय पुरस्कार हेतु ऑनलाइन आवेदन प्रस्तुत करने की अंतिम तिथि 31 अगस्त 2019

प्रधानमंत्री राष्ट्रीय पुरस्कार हेतु ऑनलाइन आवेदन प्रस्तुत करने की अंतिम तिथि 31 अगस्त 2019       भारत सरकार महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा प्रधानमंत्री राष्ट्रीय बाल पुरस्कार हेतु नामांकन ऑनलाइन किए गए हैं। इनमें बाल शक्ति पुरस्कार के तहत नवीन अविष्कार, असाधारण शैक्षिक योग्यता कला, खेलकूद, सांस्कृतिक क्षेत्र, समाज सेवा, बहादुरी के क्षेत्र में असाधारण उपलब्धि हासिल करने वाले बच्चे जिनकी आयु 31 अगस्त को 05 वर्ष से 18 वर्ष तक की हो को 26 जनवरी को राष्ट्रपति द्वारा पुरस्कृत किया जाएगा।       बाल कल्याण पुरस्कार-ऐसे व्यक्ति, व्यक्तियों, संस्थाओं को प्रदान किया जाएगा। जिनने बाल कल्याण के क्षेत्र में असाधारण कार्य किया हो। दोनों ही पुरस्कारों में एक-एक लाख रूपए की राशि एवं एक मैडल प्रदान किया जाएगा। बाल शक्ति पुरस्कार विजेताओं को गणतंत्र दिवस परेड में शामिल किया जाएगा। विस्तृत जानकारी  www.nca.wcd.nic.in   पर उपलब्ध है आवेदन ऑनलाइन ही प्रेषित करने होंगे । आवेदको की सुविधा हेतु जानकारी बालभवन जबलपुर में उपलब्ध कराई जावेगी । अथवा आवेदक  कार्यालय संचालक संभागीय बालभवन जबलपुर 383 मेन रोड गढ़ाफ

बाल रंगकर्म की बुनियाद मज़बूत करता नाट्यलोक : श्रीमती आशालता बिल्लोरे

चित्र
              2008   के बाद नाट्य लोक ने 09 जून 2019 को जानकी रमन कालेज जबलपुर में  एक बार फिर रानी अवंती बाई नाटक का प्रदर्शन  किया उसकी स्क्रिप्ट लिखी थी द्वारकेश्वर द्वारका गुप्त द्वारा । रानी अवंती बाई के बलिदान की इस कहानी को इस रोचक ढंग से लिखा और निर्देशित किया गया था नाटक के रूप में संजय गर्ग ने कि उस बलिदान को देखकर आंखें भर आना स्वभाविक सा हो गया था वैसे संजय गर्ग आदतन अपने नाटकों में ऐसा कुछ कर देते हैं जिससे की आंखें भर आना स्वाभाविक है । नाटक जो नाट्य लोक द्वारा तैयार कराए जाते हैं उनमें संगीत का लाइव सम्मिश्रण बेहद प्रभावी बना देता है इस नाटक में तो गोंडवाना की रियासत के उस दृश्य को भी लाया गया जिसमें लोक नृत्य का समावेश था ।   जिससे नाटक अत्यधिक प्रभावशाली बन पड़ा था महिमा गुप्ता की सोच उम्मीद से ज्यादा प्रभावी नजर आ रही है । डॉक्टर शिप्रा   सुल्लेरे   ने न केवल म्यूजिकपिट के जरिए लाइव म्यूजिक मिश्रित किया बल्कि विकल्प के तौर पर मुस्कान सोनी   को भी प्रभावी विकल्प के रूप में सामने ला खड़ा किया है अन्य गाय कलाकार थे- सजल सोनी , नयन सोनी , श्रेया ठाकुर , मानस

फिलाटेली विरासत को संजोए रखने की कोशिश : डॉ धीरेंद्र पाठक

【 * मुस्कान किरार एवं बाल श्री विजेता बच्चों पर डाक तार विभाग के सहयोग से बाल भवन जारी करेगा विशेष डाक टिकट* 】 फिलाटेली अर्थात पुरानी स्टैंप का एकत्रीकरण का नाम इतिहास को और विरासत को समाज के रखने जैसा है । विश्व में ऐतिहासिक महत्व की वस्तुओं का संग्रह जैसे कॉइन कलेक्शन और डाक टिकट का संग्रह करने की रुचि कई लोगों में है । पुराने नोटों का भी ही किया जाता है आने वाले समय में जिनका उपयोग ऐतिहासिक दस्तावेज के रूप में प्रमाणिक के तौर पर किया जा सकता है । मैं बेहद प्रसन्न हूं कि बाल भवन के साथ मिलकर भारतीय डाक विभाग ने यह महत्वपूर्ण कार्य अपने हाथ में लिया है । विश्व पर्यावरण की परिपेक्ष में भी कई डाक टिकटों का जारी होना पाया गया है मैं सभी बच्चों को ईद की अग्रिम शुभकामनाएं और विश्व पर्यावरण दिवस की बधाइयां देता हूं...! इस आशय के विचार संभागीय बाल भवन जबलपुर में भारतीय पोस्टल विभाग द्वारा फिलाटेली एवं भारत एवं विश्व का पोस्टल इतिहास , सामान्य एवं विशेष डाक टिकिटों की जानकारी हेतु दिनांक 4 जून 2019 को आयोजित एक कार्यक्रम में व्यक्त किये । कार्यक्रम की महत्व को रेखांकित करते हुए मार्केट

मध्य प्रदेश के 09 बच्चों को मिलेगा बालश्री 2016 सम्मान

चित्र
राष्ट्रीय बाल भवन नई दिल्ली द्वारा वर्ष 2016 के लिए बाल श्री पुरस्कारों की घोषणा कर दी है जिसमें देशभर के 80 बच्चों को सम्मानित किया जावेगा ।   सूची में मध्य प्रदेश से 9 बच्चों को शामिल किया गया है ।     बाल भवन जबलपुर की राजश्री चौधुरी   को रचनात्मक वैज्ञानिक इनोवेशन एवं मास्टर अंकुर विश्वकर्मा को मूर्तिकला के लिए सम्मानित किया जावेगा । जबलपुर बाल भवन से संबद्ध मंडला जिले की कुमारी अजीता रूपेश कोष्टा को अभिनय एवं संवाद ,  नरसिंहपुर जिले की कुमारी सपना पटेल को सृजनात्मक लेखन के लिए बाल से सम्मान प्राप्त होगा । नेत्र दिव्यांग कुमारी तान्या शर्मा को गायन के लिए मास्टर हर्ष कुमार जैन को सृजनात्मक इनोवेशन के लिए मनोध्यान श्रीपाद वैद्य को भी इसी विधा में सम्मानित किया जाएगा । भोपाल के पारस   अग्रवाल सृजनात्मक लेखन तथा सागर की विधि अहिरवार को सृजनात्मक कला के लिए बालश्री सम्मान से सम्मानित किया जावेगा।     बालश्री वर्ष 2015 के लिए जबलपुर से सम्मानित कुमारी श्रेया खंडेलवाल संवाद एवं अभिनय तथा मास्टर अभय सौंधिया को भी वर्ष 2019 में आयोजित अलंकरण समारोह में   बालश्री अलंकरण दिए जाएंगे