संदेश

अप्रैल, 2015 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

Lado-Abhiyan लाडो-अभियान पर केन्द्रत कार्टून्स

चित्र
मध्य-प्रदेश महिला सशक्तिकरण विभाग द्वारा बालविवाह की रोकथाम के लिए 2013 से लाडो-अभियान का  संचालं किया जा रहा है . इस हेतु जबलपुर के  वरिष्ठ कार्टूनिष्ट श्री राजेश कुमार दुबे से बाल-भवन जबलपुर द्वारा  बेहद प्रभावी कार्टून्स प्रचार सामग्री के रूप में  विकसित कराए गए हैं जिनमें से एक कार्टून का प्रयोग प्रदेश स्तर पर जारी विज्ञापन में भी किया गया है .  

मध्यप्रदेश का लाड़ो अभियान : बालविवाह रोकने उठाया सटीक कदम

चित्र
मध्यप्रदेश शासन के महिला सशक्तिकरण विभाग ने 2013 से    लाडो अभियान चलाकर बाल विवाह प्रतिषेध अधिनियम   2006   को प्रभावी बनाने जो कदम उठाए उससे इस दिशा में अभियान के द्वितीय चरण अर्थात   लाडो अभियान   2015   के प्रभावी असर दिखाई डे रहे हैं . लाडो-अभियान एक मिशन मोड में चलाया जाने वाला कार्यक्रम है . इस कार्यक्रम की प्रणेता महिला सशक्तिकरण संचालनालय की आयुक्त  श्रीमती कल्पना श्रीवास्तव का स्वप्न है  कि महिलाओं एवं बच्चों सशक्तिकरण के लिए सर्वांगीण पहल होनी चाहिए . आम जनता को यह महसूस हो कि  सामाजिक बदलाव लाने के लिए   सरकार के साथ साथ आम नागरिक की ज़िम्मेदारी भी है . इस हेतु योजनाएं अथवा कार्यक्रमों का जनजन तक पहुँचना आवश्यक होता है .. इसी क्रम में  महिला सशक्तिकरण संचालनालय की आयुक्त  श्रीमती कल्पना श्रीवास्तव  की सोच लीक से हटकर नज़र आ रही है . उनकी सोच से  स्वागतम लक्ष्मी ,   लाडो-अभियान   ,   शौर्यादल  जैसे  कार्यक्रम  समाज के सामने आए हैं जो महिलाओं एवं बच्चों के समग्र कल्याण  के लिए सामाजिक पहल की  दूरगामी आइडियोलोजी सूत्रपात करने में सक्षम हैं .  मध्य-प्रदेश का लाडो अभियान   201