संदेश

Featured Post

full song Mask Lagayen | Singers Arjav & Shraddha dasgupta Music Dr. Shi...

चित्र
कोविड-19 को रोकने के लिए टीकाकरण और मास्क लगाना बहुत जरूरी है। आइए 8 साल के आर्जव सुल्लेरे एवम 9 साल की श्रद्धा दासगुप्ता  से सुनते हैं एक अपील जिसके लिरिक्स नीचे दिए हुए हैं इन लिरिक्स को संगीत वध किया है मशहूर म्यूजिक डायरेक्टर म्यूजिक गुरु डॉक्टर शिप्रा सुल्लेरे ने । सौभाग्य से यह गीत मेरे हाथों से बन गया है बीते पल फिर लौट न आएं आओ ऐसी जुगत लगाएं ।। छिपे हुए दुश्मन से बचने- भूलें न नित मास्क लगाएं ।। दिल से दूर नहीं है हम सब पर दूरी  अब मजबूरी है । उत्सव मुदिता मिलना जुलना कुछ दिन रोक ज़रूरी है ।। आत्म नियंत्रण करने वाला मन-मानस पर यन्त्र लगाएं ।।

संचालक महिला बाल विकास स्वाति मीणा नायक बात करेंगी महावारी स्वच्छता पर

 अंतर्राष्ट्रीय महावारी स्वच्छता दिवस के अवसर संचालक महिला बाल विकास श्रीमती स्वाति मीणा मैदानी अमले से ऑनलाइन चर्चा करेंगी…! जिला कार्यक्रम अधिकारी जबलपुर से प्राप्त सूचना अनुसार दिनांक 28 मई 2021 को विभाग द्वारा महावारी स्वच्छता के संबंध में विस्तृत कार्यक्रम का आयोजन किया गया है यह कार्यक्रम ऑनलाइन किया जावेगा। प्राप्त जानकारी अनुसार इस कार्यक्रम में सम्मिलित होने के मैदानी स्तर तक व्यवस्थाएं सुनिश्चितकर ली गई हैं ।  दोपहर 12:00 बजे से 2:00 बजे तक आयोजित इस कार्यक्रम में माहवारी स्वच्छता दिवस की आवश्यकता कोविड-19 के संदर्भ में महावारी चक्र एवं उसके प्रबंधन को समझना तथा सेनेटरी नैपकिन के उपयोग एवं रखरखाव तथा निपटान विषय पर श्रीमती अरुंधति लोकल फार वोकल पर केंद्रित आदिवासी बाहुल्य जिला डिंडोरी में तेजस्विनी योजना अंतर्गत निर्मित स्व सहायता समूह द्वारा बनाई जाने वाली सैनेट्री पैड यूनिट के महिलाओं के अनुभव साझा होंगे।इस अवसर पर माहवारी से संबंधित समस्याओं के उत्तर एवं समाधान किया जाएगा।ऑनलाइन कार्यक्रम में श्रीमती स्वाति मीणा नायक संचालक महिला बाल विकास श्रीमती प्रज्ञा अवस्थी संयुक्त सं

राष्ट्रीय कला उत्सव : बालभवन जबलपुर की अनुष्का सोनी ने प्रदेश को गौरवान्वित किया

चित्र
हमारे जबलपुर संस्कारधानी के लिए अत्यंत  गौरवपूर्ण क्षण  आज दिनांक 28 जनवरी 2021 को पूर्वान्ह 11:00 बजे केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय कैबिनेट मिनिस्टर महोदय डॉक्टर रमेश पोखरियाल निशंक  द्वारा घोषित राष्ट्रीय कला उत्सव के 18 प्रतियोगिताओं के परिणामों में मध्य प्रदेश से शास्त्रीय संगीत कला संकाय में और जबलपुर की अनुष्का सोनी  आत्मजा श्रीमती कामिनी सोनी  एवं श्री  सजल सोनी ( विद्यालय डीपीएस हायर सेकेंडरी स्कूल मंडला रोड ) एवं बाल भवन जबलपुर की संगीत छात्रा ने सितार वादन प्रस्तुत करते हुए पूरे भारत में तृतीय स्थान अर्जित किया है इस प्रतियोगिता में जिला संभाग तथा राज्य स्तर पर प्रथम स्थान प्राप्त करते हुए राष्ट्रीय स्तर पर सहभागिता की। मध्य प्रदेश से कुल 39 प्रतिभागियों ने सहभागिता की थी यह विद्यार्थी जिले स्तर से राज्य स्तर तक प्रथम आते हुए ऑनलाइन माध्यम से अंत में राष्ट्रीय स्तर पर मध्य प्रदेश आरसीबी नरोना एकेडमी के थिएटर से शामिल हुए अपनी प्रतिभा और प्रस्तुति के बेहतर प्रदर्शन के तहत आपको यह स्थान प्राप्त हुआ है मध्यप्रदेश शासन स्कूल शिक्षा विभाग संभागीय संयुक्त संचालक ज

बाल अपराधों के संदर्भ में आपसी तालमेल बेहद जरूरी है : श्रीमती गिरिबाला सिंह, सदस्य सचिव राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण

चित्र
बाल अपराधों के संदर्भ में आपसी तालमेल बेहद जरूरी है : श्रीमती गिरिबाला सिंह, सदस्य सचिव राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण जबलपुर 21 जनवरी 2021 "बाल अपराधों के परिपेक्ष में भारत में प्रभावी कानूनी व्यवस्थाएं हैं एकीकृत बाल संरक्षण अधिनियम एवं बच्चों के विरुद्ध लैंगिक अपराध जैसे कानूनों के प्रभावी क्रियान्वयन के लिए पुलिस एवं महिला बाल विकास विभाग का आपसी एवं प्रभावी समन्वय अत्यंत आवश्यक है । इन कानूनों में दोनों विभागों को बेहद संवेदनशीलता के साथ कार्य करना चाहिए। तथा से के विचार श्रीमती गिरीबाला सदस्य सचिव राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण ने मुख्य अतिथि के रूप में व्यक्त किए। इस अवसर पर जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव श्री शरद भामकर ने भी दोनों कानूनों के क्रियान्वयन के विभिन्न पहलुओं पर विस्तार से चर्चा की। *होटल कलचुरी में आयोजित बच्चों के अधिकार एवं पुलिस की भूमिका विषय पर केंद्रित इस कार्यशाला का विषय प्रवर्तन श्री संजय अब्राहम सहायक संचालक ने किया ।*   बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ के ब्रांड एंबेसडर कुमारी उन्नति तिवारी ने कार्यक्रम का संचालन किया ।     इस अवस

राष्ट्रीय कला उत्सव : राष्ट्रीय स्तर पर जाएंगे बालभवन जबलपुर के 4 बच्चे

चित्र
जबलपुर संस्कारधानी के 4 विद्यार्थी राष्ट्रीय कला उत्सव में चयनित स्कूल शिक्षा विभाग अंतर्गत जबलपुर के जिला शिक्षा अधिकारी एवं संयुक्त संचालक लोक शिक्षण जबलपुर संभाग के मार्गदर्शन में राष्ट्रीय कला उत्सव की 18 विधाओं में से जबलपुर संभाग  के 12 विधाओं में विद्यार्थी राज्य स्तर पर चयनित हुए थे ।कोविड-19 के कारण आयोजित ऑनलाइन प्रतियोगिता में भोपाल में 17 और 18 दिसंबर को आयोजित राज्य स्तरीय प्रतियोगिता में उक्त चार विद्यार्थी प्रदेश में सर्वोच्च स्थान पर आए और उन्होंने राष्ट्रीय स्तर पर चयनित होकर प्रस्तुति की पात्रता अर्जित की अब इनकी ऑनलाइन प्रस्तुति दिल्ली में होगी भारत सरकार मानव संसाधन विकास मंत्रालय अंतर्गत स्कूल शिक्षा एवं साक्षरता शिक्षा विभाग के द्वारा आयोजित राष्ट्रीय कला उत्सव के अंतिम चरण राष्ट्रीय स्तर पर जबलपुर जिले के 4 विद्यार्थी अलग-अलग विधाओं में चयनित हुए । इस अवसर पर कलेक्टर श्री कर्मवीर शर्मा संयुक्त संचालक लोक शिक्षण श्रीमती अंनधा देव जिला शिक्षा अधिकारी श्री घनश्याम सोनी ए डी पि सी आर एम एस ए श्री अजय दुबे, संयुक्त संचालक महिला बाल विकास श्रीमती शशिश्याम उ

व्यक्ति चर्चा : मलय दासगुप्ता

चित्र
रोज रोज कुछ ना कुछ नया मौजूद होता है ब्रह्मांड में । रोज कोई एक नया व्यक्ति मिलता है रोज कोई एक नया ख्याल आता है।      श्री मलय दासगुप्ता से मिलने की कोई खास वजह नहीं है । सार्वजनिक जीवन में कौन कब किस से मिलता है उसे याद रखना भी बड़ा मुश्किल होता है । यह तो मुलाकात है बहुत कम हुई है पर एक दूसरे को पहचाने नहीं कोई कमी नहीं रह गई है। सामान्यतः हर किसी पर कलम चलाने की भी इच्छा नहीं होती.... ! यह एक स्वाभाविक एक स्वाभाविक मनोवृत्ति है ।  मलय जी मुझसे आयु में बड़े हैं समझ और चिंतन में भी। अंग्रेजी हिंदी बांग्ला जिनकी मातृभाषा है के बेहतरीन जानकार है। अध्ययन तो इतना है मानो उनके ब्रेन की हार्ड डिस्क में लाखों किताबों जमा हो। ऐसा अंदाज कब लगाया जा सकता है जबकि बातचीत के दौरान रेफरेंसेस अर्थात अर्थात् संदर्भ तुरंत ही निकलते हैं। दासगुप्ता साहब से बात करने का आनंद ही कुछ और है। एक बेहतरीन कम्युनिकेटर हैं। किसी वैचारिक गुच्छे से उनका कोई लेना-देना नहीं। कविता और सृजन से उनका गहरा नाता है । व्यक्ति चर्चा की इस क्रम में आज उनके बारे में कुछ जानकारी प्रस्तुत है परिचय नाम:- मलय दासगुप्त

Bal Bhavan Jabalpur : Report by Smt. Simran Singh

चित्र
शुभ दीपावली सभी बच्चों को बाल दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं आइए जानते हैं जबलपुर शहर के बाल भवन के बारे में क्रिएटिव स्कूल है और यहां पर जो शिक्षक गण आते हैं वह भी बड़े क्रिएटिव हैं हर रोज कुछ नया बच्चों को सीखने को मिलता है चाहे बाद गेम्स कि वह म्यूजिक की हो डांस की हो या फिर साहित्य और ड्रामा की ही क्यों ना खास बात यह है कि इस क्रिएटिव स्कूल से बच्चे ब्रांड बन कर निकल रहे हैं चाहे बात इशिता विश्वकर्मा के लिए लीजिए या फिर रत्निका श्रीवास्तव के लिए लीजिए जैसे इशिता विश्वकर्मा ने लिटिल चैंप्स के साथ ज़ी सारेगामापा में बेहतर प्रदर्शन किया और साथ ही अवार्ड अपने नाम किया ठीक वैसे ही वर्तमान में रत्निका  तारे जमीन पर म्यूजिकल शो में अपनी प्रतिभा का लोहा मनवा रही हैं और बात उन्नति करें  तो बहुत उम्दा कलाकार और श्रेया खंडेलवाल अपने आप में बेमिसाल तो सारे कलाकार जो हैं वह कहीं ना कहीं अपने आप में बेहतर हैं और इसका पूरा श्रेय जाता है बाल भवन की पूरी टीम को गिरीश  जी शिप्राजी रेनू मैडम सोनी जी गेम्स के टीचर और साथ ही वक्त वक्त पर अहम भूमिका निभाने वाले कई विशेषज्ञ दीपमाला रावत जी यह सभी ऐसे स्तंभ ह