संदेश

तारसप्तक से बंधे बाल कलासाधक

चित्र
                 जबलपुर 7 /12/15 बाल भवन जबलपुर एवं स्पिकमैके के संयुक्त तत्वावधान में बाल भवन के बच्चों के लिए आयोजित कार्यक्रम में श्रीमती श्रुति अधिकारी के संतूर वादन का कार्यक्रम आयोजित किया गया । कार्यक्रम के प्रारम्भ में अतिथि कलाकार ने दीप-प्रज्जवलन किया तथा उनका स्वागत तबलावादक कुमारी मनु एवं बाल साहित्यकार कुमारी नीति शर्मा ने श्रीमति श्रुति अधिकारी एवं अतिथि संगतकार श्री परिवेश चौधरी का पुष्प-गुच्छ भेंट कर स्वागत किया । कार्यक्रम के प्रारम्भ में शास्त्रीय संगीत के महत्व तथा शास्त्रीय संगीत में प्रयुक्त होने वाले वाद्यों की जानकारी दी तदुपरान्त सामूहिक रूप से संतूर की धुन पर वंदे मातरम का गायन हुआ । साथ ही विभिन्न रागों पर आधारित संतूर वादन प्रस्तुत किया गया । संयोजक संस्था प्रमुख श्रीमती अंजली पाठक ने बताया बाल-भवन के साथ सदैव ही हमारे अतिथि कलाकारों के अनुभव उल्लेखनीय रहे । बालाभवन के साथ ऐसे कार्यक्रम सतत रूप से जारी रहेंगे । गिरीश बिल्लोरे संचालक बाल-भवन ने महिला सशक्तिकरण विभाग की ओर से  “स्वागतम-लक्ष्मी” कार्यक्रम के तहत अतिथि कलाकार को सम्मान पत्र भेंट किया गया ।

सृजनात्मक-प्रदर्शनी पर आधारित कार्यक्रम “रंगों की उड़ान ”

चित्र
                संभागीय  बालभवन जबलपुर , द्वारा महिला-सशक्तिकरण संचालनालय द्वारा क्रियान्वित योजनाओं के प्रचार-प्रसार एवं  बाल भवन जबलपुर द्वारा संचालित गतिविधियों पर केंदित एक सृजनात्मक-प्रदर्शनी पर आधारित कार्यक्रम का आयोजन -    रानी दुर्गावती संग्रहालय जबलपुर में दिनांक 22-12-2015 से 23-12-2015 तक आयोजित किया जाना है । इसके पूर्व विभिन्न प्रतियोगिताएं आयोजित की जावेंगी .             कार्यक्रम का उद्देश्य समान कार्य करने वाली संस्थाओं के साथ कनवरजेंस स्थापित करना भी है । साथ ही महिला एवं बाल कल्याण पर केन्द्रित राज्य एवं केंद्र सरकार की योजनाओं / कार्यक्रमों को कलात्मक तरीके से प्रस्तुत करना भी है । तथा जन सामान्य को शासकीय कार्यक्रमों से अवगत कराने की कोशिश करना .               इस हेतु सहयोगी संस्थाओं  जैसे रेडक्रास,  इंटेक , मिलन मध्य-प्रदेश , त्रिवेणी-परिषद , मध्यप्रदेश आर्टिस्ट फोरम , का सहयोग लिया जाना है । सहयोगी विभाग / कार्यालय के रूप में जिला कार्यक्रम अधिकारी जबलपुर, जिला शिक्षा अधिकारी, शिक्षा अधिकारी नगर-निगम,  एवं जिला महिला सशक्तिकरण अधिकारी का सहयोग वा

विश्व में कथक की अलख जगाने वाली समीक्षा शर्मा मिलीं बाल-भवन जबलपुर के बच्चों से

चित्र
                बालभवन जबलपुर ,   एवं   स्पिक-मैके के संयुक्त प्रयासों से बाल-भवन के बच्चों के बीच कथक   नृत्य की कार्यशाला का आयोजन किया गया । दिल्ली निवासी दिल्ली दूरदर्शन की “ बी-ग्रेड ” कलाकार  देश की प्रतिभावान कथक साधिका सुश्री समीक्षा शर्मा “ अरुण ” ने कार्यशाला में बालकलाकारों को प्रशिक्षित किया । कथक विधा शोध कर रहीं सुश्री समीक्षा ने प्रादेशिक एवं   राष्ट्रीय   अलंकरण प्राप्त हुए हैं। उजबेककिस्तान ,   स्पेन ,   वेनेजुएला ,   नार्वे ,   एवं जर्मनी में   अंतरराष्ट्रीय आयोजनों में प्रस्तुतियाँ दीं हैं । जबलपुर में 2008 के नर्मदा-उत्सव में भागीदारी करने वाली युवा साधिका ने देश के कई शहरों में प्रस्तुतियाँ दीं हैं ।   PRESENT PROFESSIONAL STATUS AND WORK EXPERIENCE. ·          Associated with Lal Bahadur Shastri Centre for Indian Culture, Embassy of India Tashkent Uzbekistan as a Kathak dance teacher cum performer, since Aug. 2009 to April 2013. ·         Worked as a Director of “Gurukul” Guru Kundan Lal Sangeet Academy Gwalior M.P.(2006 to 2009) ·         Workin