संदेश

जून, 2019 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

बाल रंगकर्म की बुनियाद मज़बूत करता नाट्यलोक : श्रीमती आशालता बिल्लोरे

चित्र
              2008   के बाद नाट्य लोक ने 09 जून 2019 को जानकी रमन कालेज जबलपुर में  एक बार फिर रानी अवंती बाई नाटक का प्रदर्शन  किया उसकी स्क्रिप्ट लिखी थी द्वारकेश्वर द्वारका गुप्त द्वारा । रानी अवंती बाई के बलिदान की इस कहानी को इस रोचक ढंग से लिखा और निर्देशित किया गया था नाटक के रूप में संजय गर्ग ने कि उस बलिदान को देखकर आंखें भर आना स्वभाविक सा हो गया था वैसे संजय गर्ग आदतन अपने नाटकों में ऐसा कुछ कर देते हैं जिससे की आंखें भर आना स्वाभाविक है । नाटक जो नाट्य लोक द्वारा तैयार कराए जाते हैं उनमें संगीत का लाइव सम्मिश्रण बेहद प्रभावी बना देता है इस नाटक में तो गोंडवाना की रियासत के उस दृश्य को भी लाया गया जिसमें लोक नृत्य का समावेश था ।   जिससे नाटक अत्यधिक प्रभावशाली बन पड़ा था महिमा गुप्ता की सोच उम्मीद से ज्यादा प्रभावी नजर आ रही है । डॉक्टर शिप्रा   सुल्लेरे   ने न केवल म्यूजिकपिट के जरिए लाइव म्यूजिक मिश्रित किया बल्कि विकल्प के तौर पर मुस्कान सोनी   को भी प्रभावी विकल्प के रूप में सामने ला खड़ा किया है अन्य गाय कलाकार थे- सजल सोनी , नयन सोनी , श्रेया ठाकुर , मानस

फिलाटेली विरासत को संजोए रखने की कोशिश : डॉ धीरेंद्र पाठक

【 * मुस्कान किरार एवं बाल श्री विजेता बच्चों पर डाक तार विभाग के सहयोग से बाल भवन जारी करेगा विशेष डाक टिकट* 】 फिलाटेली अर्थात पुरानी स्टैंप का एकत्रीकरण का नाम इतिहास को और विरासत को समाज के रखने जैसा है । विश्व में ऐतिहासिक महत्व की वस्तुओं का संग्रह जैसे कॉइन कलेक्शन और डाक टिकट का संग्रह करने की रुचि कई लोगों में है । पुराने नोटों का भी ही किया जाता है आने वाले समय में जिनका उपयोग ऐतिहासिक दस्तावेज के रूप में प्रमाणिक के तौर पर किया जा सकता है । मैं बेहद प्रसन्न हूं कि बाल भवन के साथ मिलकर भारतीय डाक विभाग ने यह महत्वपूर्ण कार्य अपने हाथ में लिया है । विश्व पर्यावरण की परिपेक्ष में भी कई डाक टिकटों का जारी होना पाया गया है मैं सभी बच्चों को ईद की अग्रिम शुभकामनाएं और विश्व पर्यावरण दिवस की बधाइयां देता हूं...! इस आशय के विचार संभागीय बाल भवन जबलपुर में भारतीय पोस्टल विभाग द्वारा फिलाटेली एवं भारत एवं विश्व का पोस्टल इतिहास , सामान्य एवं विशेष डाक टिकिटों की जानकारी हेतु दिनांक 4 जून 2019 को आयोजित एक कार्यक्रम में व्यक्त किये । कार्यक्रम की महत्व को रेखांकित करते हुए मार्केट