संदेश

अप्रैल, 2022 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

1 मई से बाल भवन में प्रारंभ होंगे विशेष शिविर : गर्मी को देखते हुए बदला समय

चित्र
  1 मई से बाल भवन में प्रारंभ होंगे विशेष शिविर : गर्मी को देखते हुए बदला समय   1 मई 2022 से 30 जून 2022 तक संभागीय बाल भवन प्रशिक्षण व्यवस्था में परिवर्तन करते हुए बच्चों के प्रशिक्षण के लिए प्रातः 8:30 से कक्षाएं लगाई जाएंगी। यह कक्षाएं ग्रीष्मकालीन शिविर के रूप में संचालित की जाएंगी। संचालक संभागीय बाल भवन ने बताया कि इस अवधि में श्री अभिषेक नागराज एवं उनकी टीम द्वारा स्वतंत्रता की 75 वीं वर्षगांठ के मद्देनजर राष्ट्रीय एवं भावात्मक गीतों पर केंद्रित कार्यशाला में 10 गीत तैयार कराई जाएंगी तथा उनका प्रस्तुतीकरण भी कराया जावेगा। साथ ही धीर पाकुरिया के मार्गदर्शन में अभिनय समसामयिक नृत्य प्रशिक्षण कार्यक्रम भी सुनिश्चित कर लिया गया है। इसके अलावा श्रीमती सीमा चौरसिया के मार्गदर्शन में रोजगार उन्मुख प्रशिक्षण कार्यक्रम भी दिया जावेगा। साहित्य संवाद तथा संप्रेषण आदि विषयों पर भी विशेष शिविर आयोजित किए जाएंगे।    संचालक द्वारा बताया गया कि शॉर्ट टर्म एवं मासिक प्रशिक्षण शिविर हेतु पंजीयन 19 अप्रैल से प्रारंभ कर दिया गया है। शिविर में सम्मिलित होने के लिए किसी भी तरह का शुल्क नहीं लगेगा। के

1 मई 2022 से बाल भवन में प्रारंभ होंगे विशेष शिविर : गर्मी को देखते हुए बदला समय

चित्र
 इशिता ने बाल भवन के बच्चों को ऑटोग्राफ दिए   1 मई 2022 से 30 जून 2022 तक संभागीय बाल भवन प्रशिक्षण व्यवस्था में परिवर्तन करते हुए बच्चों के प्रशिक्षण के लिए प्रातः 8:30 से कक्षाएं लगाई जाएंगी। यह कक्षाएं ग्रीष्मकालीन शिविर के रूप में संचालित की जाएंगी। संचालक संभागीय बाल भवन ने बताया कि इस अवधि में श्री अभिषेक नागराज एवं उनकी टीम द्वारा स्वतंत्रता की 75 वीं वर्षगांठ के मद्देनजर राष्ट्रीय एवं भावात्मक गीतों पर केंद्रित कार्यशाला में 10 गीत तैयार कराई जाएंगी तथा उनका प्रस्तुतीकरण भी कराया जावेगा। साथ ही धीर पाकुरिया के मार्गदर्शन में अभिनय समसामयिक नृत्य प्रशिक्षण कार्यक्रम भी सुनिश्चित कर लिया गया है। इसके अलावा श्रीमती सीमा चौरसिया के मार्गदर्शन में रोजगार उन्मुख प्रशिक्षण कार्यक्रम भी दिया जावेगा। साहित्य संवाद तथा संप्रेषण आदि विषयों पर भी विशेष शिविर आयोजित किए जाएंगे।    संचालक द्वारा बताया गया कि शॉर्ट टर्म एवं मासिक प्रशिक्षण शिविर हेतु पंजीयन 19 अप्रैल से प्रारंभ कर दिया गया है। शिविर में सम्मिलित होने के लिए किसी भी तरह का शुल्क नहीं लगेगा। केवल एक बार ₹60 पंजीयन

संभागीय बाल भवन जबलपुर ने किया अपनी पूर्व छात्रा का सम्मान

चित्र
    महिला बाल विकास विभाग द्वारा संचालित लाडो योजना की पूर्व ब्रांड एंबेसडर विभिन्न रियलिटी शो की विजेता संभागीय बाल भवन जबलपुर से संगीत का सफर शुरू करने वाली गायिका कुमारी इशिता विश्वकर्मा का स्वागत सम्मान संभागीय बाल भवन द्वारा किया गया। इस अवसर पर इशिता विश्वकर्मा द्वारा संस्थान में प्रशिक्षण प्राप्त करने वाले  बाल कलाकारों से वार्ता की तथा उन्हें बताया कि संगीत साधना कोई आसान साधना नहीं है। बार-बार किए जाने वाले प्रयास ही सफलता की चाबी है। इस अवसर पर गिरीश बिल्लोरे  संचालक संभागीय बाल भवन ने बताया कि-" इशिता ने अपने प्रशिक्षण काल में राज्य शासन की योजनाओं के लिए एल्बम में कई गीत गाए हैं। इशिता हमेशा अपनी संस्था गुरु एवं अपने मार्गदर्शक के अलावा अपने साथियों के बीच सहज एवं समर्पित छात्रा के रूप में पहचानी जाती रही हैं। इशिता को मध्यप्रदेश शासन महिला बाल विकास द्वारा बाल विवाह रोकने चलाए जाने वाले लाडो अभियान के ब्रांड एंबेसडर के रूप में नियुक्त किया था। इशिता द्वारा मतदाता जागरूकता अभियान स्वच्छता अभियान एवं महिला सशक्तिकरण पर केंद्रित गीतों का गायन किया गया। इस अवस