बालभवन मेँ व्यक्तित्व विकास कार्यशाला

      
बच्चोँ मेँ प्रतिभाओँ के विकास के साथ साथ उनके व्यक्तित्व मेँ निखार लाने के उद्देश्य से सँभागीय बालभवन जबलपुर मेँ “पँद्रह दिवसीय व्यक्तित्व विकास कार्यशाला ” आयोजित की जा रही है.  दिनाँक 25.11.14  से 10.12. 2014   तक चलने वाली इस कार्यशाला मेँ नेत्रहीन बालिकाएँ भी सम्मिलित हैँ. कार्यशाला एक्सपर्ट  सुश्री नीतू पाँडे ने बताया कि- “”व्यक्तिव विकास मेँ उन सभी बिँदुओँ को शामिल किया गया है जिससे व्यक्तित्व को आकर्षक एवम समाजोन्नमुखी बनाया जा सकता है .
            दिनाँक 26.11.14 को  बालभवन पहुँचे वरिष्ठ पत्रकार एवम नवभारत जबलपुर के सँपादक श्री चैतन्य भट्ट ने व्यक्तित्व विकास कार्यशाला मेँ पहुँचकर प्रशिक्षण मेँ शामिल बच्चोँ से बातचीत की तथा व्यक्तित्व विकास को बच्चोँ के सम्पूर्ण विकास का ज़रूरी हिस्सा मानते हुए कहा कि- “शैक्षिकोत्तर गतिविधियोँ को रुचिकर एवम आवाश्यकता के अनूकूल बनाके बालभवन जबलपुर ने उत्कृष्ट प्रयोग किया है. बहुधा अनेक प्रतिभाएँ केवल इस कारण पीछे रह जातीँ हैँ क्योँकि उनका एपीरियेँस प्रभावशाली नहीँ होता अथवा वे आगे चलकर प्रभावशाली सँप्रेषणीयता मेँ सफला नहीँ हो पाते . सम्पूर्ण रूप से विकसित व्यक्तित्व किसी भी परिस्थिति मेँ प्रखर एवम मुखर होता है. सँभागीय बालभवन जबलपुर इस हेतु बधाई का पात्र है. ”

           
 संभागीय बालभवन जबलपुर में माह दिसंबर में एक सप्ताह के लिए  एक्टिविटी क्लासेस  भी चलाई जावेंगी 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

मध्यप्रदेश के बाल भवनों मैं ऑनलाइन एडमिशन एवं प्रशिक्षण की व्यवस्था प्रारंभ

महिला बाल विकास विभाग द्वारा आयोजित पोषण सभा में पहुंचे माननीय मुख्यमंत्री कमलनाथ जी

बालगीत