लाड़ली लक्ष्मी योजना के परिवर्तित स्वरूप ई लाडली हेतु संभाग स्तरीय प्रचार कार्यक्रम प्रारम्भ

एक जून 2015 से प्रारंभ ई-लाड़ली लक्ष्मी योजना के प्रचार प्रसार के लिए संभागीय उप संचालक महिला सशक्तिकरण श्रीमती मनीषा लुंबा  द्वारा आगामी तीन माह तक चलने वाले सघन प्रचारात्मक कार्यक्रम का शुभारंभ संभागीय बाल भवन जबलपुर में किया ।  कार्यक्रम के तहत ग्रामीण क्षेत्रों एवं आदिवासी बाहुल्य जिलों में योजना के नए एवं आंशिक रूप से परिवर्तित स्वरूप को जन जन तक पहुंचाने के लिए अधिकारियों को तत्परता बरतने के निर्देश दिये ।
1.     कियोस्क से भी आवेदन दे सकेंगे अभिभावक  :-  “परिवर्तित योजना सहज सरल हो गई है कोई भी अभिभावक खण्ड स्तरीय सशक्तिकरण अधिकारी / बाल विकास परियोजना अधिकारी क कार्यालय में सीधे अथवा लोक सेवा केंद्र से / आन-लाइन आवेदन कर सकते हैं ।”
2.     मिलेगा एक मात्र प्रमाण पत्र :- “परिवर्तित स्वरूप को व्यापक प्रचार प्रसार हेतु लगातार संभाग भर में विविध कार्यक्रम किए जा रहे हैं,  ई-लाड़ली के अंतर्गत अब पोष्ट-आफिस से एन एस सी जारी नहीं होंगी । अब ई-लाड़ली के तहत पूर्व से  जारी की गईं  एन एस सी को बाल विकास परियोजना अधिकारी / खण्ड स्तरीय महिला सशक्तिकरण के कार्यालयों में जमा करना होगा । ताकि लाड़ली लक्ष्मी प्रमाण पत्र जारी किया जावेगा ।‘’ 
प्रचार अभियान शुरुआत हेतु आयोजित कार्यक्रम में  समृद्धि असाटी , श्रेया ठाकुर, प्रिया सौंधिया, अमृता असाटी,ने बालिका जीवन पर केन्द्रित कोलाज गीत की प्रस्तुति सुश्री शिप्रा सुल्लेरे  के निर्देशन में किया गया ।
इस अवसर पर श्रीमती अजय जैन, सहायक-संचालक, संचालक संभागीय बालभवन की उपस्थिती उल्लेखनीय है । कार्यक्रम के आयोजन में श्री शरद बोरकर,श्री  नीलेश कश्यप,  श्री पीयूष खरे श्री इन्द्र पांडे, श्री सोमनाथ सोनी, श्री श्रीमती रेणु पाण्डे, की सहभागिता उल्लेखनीय रही ।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

मध्यप्रदेश के बाल भवनों मैं ऑनलाइन एडमिशन एवं प्रशिक्षण की व्यवस्था प्रारंभ

महिला बाल विकास विभाग द्वारा आयोजित पोषण सभा में पहुंचे माननीय मुख्यमंत्री कमलनाथ जी

बालगीत