राष्ट्रीय बालश्री चयन शिविर में जुड़ेंगे देश के चुनिन्दा 439 बालकलाकार मध्य-प्रदेश से सर्वाधिक 57


देश भर के बालभवनों से 439 बच्चों को राष्ट्रीय चयन शिविर के लिए राष्ट्रीय बाल-भवन ने चुना है . मध्यप्रदेश के भोपाल एवं इन्दौर शिविरों में से 57 बच्चों का चयन किया गया है . जो देश में सबसे अधिक हैं.
प्रान्तवार स्थिति -  
मिजोरम से 32 , मणिपुर से 06, पश्चिम-बंगाल (कोलकाता) से 11 , बिहार से 20, गुजरात से 30, महाराष्ट्र से 15, आन्ध्र प्रदेश 39, मध्य-प्रदेश से 57, उड़ीसा से 18, तमिलनाडू से 45, छत्तीसगढ़ से 15, उत्तर-प्रदेश से 35, तेलंगाना से 32, एवं राष्ट्रीय बालभवन नई-दिल्ली से 33 बच्चे कुल 439 बच्चों में अंतिम स्पर्धा दिनांक 3-4 मई 2016 को राष्ट्रीय-बालभवन नई दिल्ली में होगी.
बालकलाकारों को  राष्ट्रीय स्पर्धा के लिए भेजने वाले  प्रथम 5  स्थान पर क्रमश:  मध्य-प्रदेश (57 बच्चे)  तमिलनाडू ( 45 बच्चे) आंध्र प्रदेश (39) उत्तर-प्रदेश ( 35), दिल्ली (33) राज्य हैं . जबकि सबसे कम 06 बच्चे मणिपुर से शामिल होंगे.    
बालश्री 2015 के लिए राज्य स्तरीय चयन प्रक्रिया में जबलपुर से शामिल 20 बच्चों में से 09 बच्चों ने अपने दावेदारी राष्ट्रीय बालश्री चयन शिविर के लिए साबित कर दी है .  राष्ट्रीय बालभवन दिल्ली  से जारी सूचनानुसार भोपाल चयन शिविर से 38 बच्चों में से निम्नानुसार बच्चे दिनांक 3-4 मई 2016  अंतिम चयन हेतु कड़ी स्पर्धा के लिए तैयार हैं .
      1.   मनु कौशल ,तबला
 2.   श्रेया खंडेलवाल, अभिनय
3.   प्रवीन उद्दे          गायन , विशेष श्रेणी
4.   आकाश कोहली  पेंटिंग , विशेष श्रेणी
5.    सृष्टि गुप्ता          संवाद-लेखन,
6.   अभय सौंधिया    मूर्तिकला.
7.   कुमारी माया पटेल कविता-लेखन, विशेष-श्रेणी
8.   कुमारी अपूर्वा गुप्ता विज्ञान-माडल
9.   सौम्य नागवंशी विज्ञान माडल विशेष श्रेणी
जबलपुर एवं संभागीय बालभवन के लिए गौरव का विषय है कि प्रदेश- स्तर पर  जबलपुर के सभी 20 बच्चों ने कड़ी प्रतिस्पर्धा में हिस्सा लिया एवं उनमें से 09  बच्चों ने जोनल विजेता होने का गौरव हासिल किया है.

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

मध्यप्रदेश के बाल भवनों मैं ऑनलाइन एडमिशन एवं प्रशिक्षण की व्यवस्था प्रारंभ

महिला बाल विकास विभाग द्वारा आयोजित पोषण सभा में पहुंचे माननीय मुख्यमंत्री कमलनाथ जी

बालगीत