“राष्ट्रीय बालश्री 2016 के लिये गायन एवम अभिनय में कठिन हुआ निर्णय लेना”


                    सम्भागीय बालभवन जबलपुर द्वारा 23 जुलाई 16 से राष्ट्रीय बालश्री चयन हेतु आंतरिक चयन प्रक्रिया प्रारम्भ होकर 21 अगस्त 2016 तक जारी रहेगी . इस क्रम में दिनांक 28 एवम 29  जुलाई को बालभवन में गायन एवम अभिनय में अंध मूक बधिर विद्यालय, राजकुमारी बाई बाल निकेतन के प्रतिभागियों सहित बाल भवन के बच्चों ने भाग लिया . उदघाटन सत्र   श्री विनय शर्मा, श्री संतोष सिंह राजपूत , सुश्री  शमिष्ठा घोष , अमित चक्रवर्ती, नृत्य गुरु श्री इंद्र पाण्डे   की उपस्थिति में सपन्न हुई . आज़ से प्रारम्भ प्रतियोगता में 45 बच्चों ने भाग लिया . प्रतियोगिता के प्रथम राउण्ड में बच्चों ने च्वाइस  के गीत एवम अभिनय का प्रदर्शन किया तथा द्वितीय राउण्ड में निर्णायकों की च्वाइस पर अपनी बेहतरीन प्रस्तुतियां दीं गई. इस क्रम में नाट्क एवम गायन के लिये   अंतिम चयन दिनांक 29 जुलाई 16 को  होगा.    

                                
    उदघाटन सत्र के प्रारम्भ में अतिथियों दीप प्रज़्ज़्वलन किया तदुपरांत राष्ट्रीय बालश्री सम्मान के विषय में संचालक बालभवन ने  विस्तार से जानकारी दी .अतिथियों का स्वागत श्रीमति मीना सोनी श्रीमति रेणु पाण्डे, श्री अमित जाट आदि ने किया जबकि आभार प्रदर्शन श्रीमति विजयलक्ष्मी अय्यर ने किया . प्रतियोगिताके आयोजन में  संगीत निर्देशक सुश्री शिप्रा सुल्लेरे , तबला प्रशिक्षक श्री सोमनाथ सोनी मुस्कान  सोनी नाट्य प्रशिक्षक अभिनेता श्री अक्षय सिंह ठाकुर, नुक्कड नाटक प्रशिक्षक कुमारी मनीषा तिवारी  शुभम जैन, ,  श्रीमति सीता ठाकुर एवम टी आर डेहरिया का योगदान उल्लेखनीय रहा .   दिनांक 30 से 31 जुलाई 16 तक कला प्रतिस्पर्द्धा आयोजित की  जावेंगी ,जिसमें ग्राफिक्स, चित्रकला, मूर्तिकला,शिल्पकला आदि विधाओं से  राज्य स्तरीय शिविर हेतु  बच्चों का चयन किया जावेगा .  

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

मध्यप्रदेश के बाल भवनों मैं ऑनलाइन एडमिशन एवं प्रशिक्षण की व्यवस्था प्रारंभ

महिला बाल विकास विभाग द्वारा आयोजित पोषण सभा में पहुंचे माननीय मुख्यमंत्री कमलनाथ जी

बालगीत