खुद से अधिक राष्ट्र के लिए सोचना चाहिए

संभागीय बालभवन जबलपुर में प्रात: 08:00 बजे संचालक बालभवन द्वारा ध्वजारोहण किया । तदुपरांत याशिका तिवारी,प्रत्युषा तिवारी,शिवानी नामदेव,अनुश्री तिवारी,जानवी सोनी,अन्वेषा गुप्ता,आरना दुबे,दिव्यांशी अग्रवाल आदि ने राष्ट्रीय एवम भावात्मक गीतों की प्रस्तुति दी । 
इस अवसर पर संचालक बालभवन गिरीश बिल्लोरे ने बच्चों से बात करते हुए कहा कि देश के विकास के लिए सबके महत्व को समझना चाहिए । दूसरों को कमज़ोर बना के किसी का विकास नहीं होता देश का भी नहीं । खुद से अधिक राष्ट्र के लिए सोचना और कार्य करना चाहिए । अब बालभवन का अर्थ सभी बच्चे और अभिभावकों से छिपा नहीं है । इसके लिए सभी गुरुजन की मेहनत है कि बालभवन जबलपुर में जाना और पहचाना जा रहा है बच्चों, अभिभावकों, को धन्यवाद देते हुए अनुदेशकों क्रमशः: श्रीमती रेणु पांडे, डॉ शिप्रा सुल्लेरे, श्री देवेन्द्र यादव एवम श्री सोमनाथ सोनी की क्षमता की सराहना की ।
इस अवसर पर संचालक ने बताया कि बच्चों के लिए 7000=00 रुपये की खेल सामग्री प्रदान कर श्री सुशील शुक्ला अध्यक्ष बालभवन सहयोगिनी एवम सलाहकार समिति ने देकर जो कार्य किया है वो अनुकरणीय है । नाट्यलोक के सहयोग से आयोजित कार्यशाला में नाश्ते हेतु डॉ संध्या जैन श्रुति एवम श्री सतीश बिल्लोरे द्वारा एक एक हज़ार रुपये की देकर सहयोग दिया । 
अंत में सहकर्मियों सहित सभी का आभार व्यक्त करते हुए सभी को शुभकामनाएं दीं ।

*मनीषा तिवारी* 
*छात्रा, मास कम्युनिकेशन एवम जर्नलिज़म RDVV जबलपुर पूर्व छात्रा सम्भागीय बालभवन जबलपुर*

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

मध्यप्रदेश के बाल भवनों मैं ऑनलाइन एडमिशन एवं प्रशिक्षण की व्यवस्था प्रारंभ

महिला बाल विकास विभाग द्वारा आयोजित पोषण सभा में पहुंचे माननीय मुख्यमंत्री कमलनाथ जी

बालगीत