बाल अपराधों के संदर्भ में आपसी तालमेल बेहद जरूरी है : श्रीमती गिरिबाला सिंह, सदस्य सचिव राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण

बाल अपराधों के संदर्भ में आपसी तालमेल बेहद जरूरी है : श्रीमती गिरिबाला सिंह, सदस्य सचिव राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण
जबलपुर 21 जनवरी 2021
"बाल अपराधों के परिपेक्ष में भारत में प्रभावी कानूनी व्यवस्थाएं हैं एकीकृत बाल संरक्षण अधिनियम एवं बच्चों के विरुद्ध लैंगिक अपराध जैसे कानूनों के प्रभावी क्रियान्वयन के लिए पुलिस एवं महिला बाल विकास विभाग का आपसी एवं प्रभावी समन्वय अत्यंत आवश्यक है । इन कानूनों में दोनों विभागों को बेहद संवेदनशीलता के साथ कार्य करना चाहिए। तथा से के विचार श्रीमती गिरीबाला सदस्य सचिव राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण ने मुख्य अतिथि के रूप में व्यक्त किए। इस अवसर पर जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव श्री शरद भामकर ने भी दोनों कानूनों के क्रियान्वयन के विभिन्न पहलुओं पर विस्तार से चर्चा की।
*होटल कलचुरी में आयोजित बच्चों के अधिकार एवं पुलिस की भूमिका विषय पर केंद्रित इस कार्यशाला का विषय प्रवर्तन श्री संजय अब्राहम सहायक संचालक ने किया ।*
  बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ के ब्रांड एंबेसडर कुमारी उन्नति तिवारी ने कार्यक्रम का संचालन किया । 
   इस अवसर  *संयुक्त संचालक महिला एवं बाल विकास श्रीमती शशि श्याम उईके एवम श्री एम एल मेहरा जिला कार्यक्रम अधिकारी जबलपुर*, ने महिला बाल विकास विभाग द्वारा बाल संरक्षण अंतर्गत संचालित संस्थाओं के प्रबंधन एवं सर्वेक्षण एवं विभागीय कार्यक्रमों के संबंध में विस्तार से जानकारी दी गई । 
आवाज संस्था के प्रतिनिधि श्री प्रशांत दुबे ने मध्य प्रदेश तथा महाकौशल क्षेत्र में चाइल्ड ट्रैफिकिंग की स्थिति प्रस्तुत करते हुए उससे बचने तथा ऐसी घटनाओं की रोकथाम के लिए उठाए जा रहे कदमों तथा उनमें स्वयंसेवी संस्थाओं की भूमिका तथा महत्व को उदाहरण के साथ प्रस्तुत किया। इसके अतिरिक्त अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक साउथ श्री गोपाल खांडेल ने पुलिस विभाग द्वारा उठाए गए कदमों एवं विभाग के मैदानी अमले को इन कानूनों से निरंतर प्रशिक्षित करते रहने के संबंध में विस्तार से जानकारी दी। 
तकनीकी सत्र में श्री प्रशांत दुबे , श्री प्रांशु जॉर्ज, सहायक लोक अभियोजन अधिकारियों क्रम शहर श्रीमती स्मिता ठाकुर श्री ऋतुराज कुमरे  सरिता यादव ने विचार व्यक्त किए । कार्यशाला में महिला बाल विकास विभाग के  परियोजना अधिकारी एवं पर्यवेक्षक के अलावा पुलिस विभाग के  उप निरीक्षक तथा बाल कल्याण अधिकारी उपस्थित रहे। एक दिवसीय आयोजन का आभार प्रदर्शन श्रीमती नंदनी सराफ ने किया

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बालभवन स्वतन्त्रता दिवस 2021 के अवसर पर आयोजित प्रतियोगिताएं

वीरांगना अवंति बाई लोधी का बलिदान : प्रो. आनंद राणा इतिहासकार,

मुख्यमंत्री निवास पर लाडो-अभियान की ब्रांड एम्बेसडर ईशिता विश्वकर्मा का गाया गीत “बापू मैं तेरी लाडो हूँ ...”