राष्ट्रीय कला उत्सव : बालभवन जबलपुर की अनुष्का सोनी ने प्रदेश को गौरवान्वित किया

हमारे जबलपुर संस्कारधानी के लिए अत्यंत  गौरवपूर्ण क्षण 


आज दिनांक 28 जनवरी 2021 को पूर्वान्ह 11:00 बजे केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय कैबिनेट मिनिस्टर महोदय डॉक्टर रमेश पोखरियाल निशंक  द्वारा घोषित राष्ट्रीय कला उत्सव के 18 प्रतियोगिताओं के परिणामों में मध्य प्रदेश से शास्त्रीय संगीत कला संकाय में और जबलपुर की अनुष्का सोनी  आत्मजा श्रीमती कामिनी सोनी  एवं श्री  सजल सोनी ( विद्यालय डीपीएस हायर सेकेंडरी स्कूल मंडला रोड ) एवं बाल भवन जबलपुर की संगीत छात्रा ने सितार वादन प्रस्तुत करते हुए पूरे भारत में तृतीय स्थान अर्जित किया है इस प्रतियोगिता में जिला संभाग तथा राज्य स्तर पर प्रथम स्थान प्राप्त करते हुए राष्ट्रीय स्तर पर सहभागिता की। मध्य प्रदेश से कुल 39 प्रतिभागियों ने सहभागिता की थी यह विद्यार्थी जिले स्तर से राज्य स्तर तक प्रथम आते हुए ऑनलाइन माध्यम से अंत में राष्ट्रीय स्तर पर मध्य प्रदेश आरसीबी नरोना एकेडमी के थिएटर से शामिल हुए अपनी प्रतिभा और प्रस्तुति के बेहतर प्रदर्शन के तहत आपको यह स्थान प्राप्त हुआ है मध्यप्रदेश शासन स्कूल शिक्षा विभाग संभागीय संयुक्त संचालक जिला शिक्षा विभाग जबलपुर सहित  जिले के मुखिया श्री कर्मवीर शर्मा जी कलेक्टर जिला जबलपुर के मार्गदर्शन में यह हमने उपलब्धि अर्जित की  विगत राष्ट्रीय बालिका दिवस 24 जनवरी 2021 को  राज्य स्तर में प्रथम आने के परिपेक्ष में उनको सम्मानित किया गया था . आज उन्होंने पूरे भारत में तृतीय स्थान अर्जित किया है हम सब की ओर से उन्हें बधाई। इस उपलब्धि पर संयुक्त संचालक महिला एवं बाल विकास श्रीमती  शशि शशि श्याम उईके जिला कार्यक्रम अधिकारी श्री एम एल मेहरा जिला शिक्षा अधिकारी श्री घनश्याम सोनी कोऑर्डिनेटर कला उत्सव जबलपुर श्री उपेंद्र यादव ने बालिका को बधाईयां दी है।

अनुष्का का परिचय
  डीपीएस स्कूल  जबलपुर में  कला विषय से 11वीं की छात्रा अनुष्का सोनी प्रख्यात संगीत शिक्षक श्रीमती कामिनी एवम श्री सजल सोनी जी की पुत्री हैं ।  श्री सजल सोनी स्वयं प्रतिष्ठित संगीततज्ञ एवम विभिन्न वाद्यों के वादक है लगभग 20 वर्षों से संस्कारधानी के बच्चों को संगीत का प्रशिक्षण दे रहा है । वर्तमान में अनुष्का के विशेष प्रशिक्षण के लिए संभागीय बाल भवन में संचालक श्री गिरीश  बिल्लोरे के द्वारा उनके संगीत अनुदेशक शिप्रा सुलेरे के द्वारा प्रशिक्षित किया जा रहा है। इनके ही मार्गदर्शन में उन्होंने राज्य स्तर पर एवं राष्ट्रीय स्तर पर सहभागिता की ।

राष्ट्रीय स्तर पर संस्कारधानी जबलपुर एवं मध्य प्रदेश का नाम रोशन करने वाली छात्र को संस्कारधानी के कलाकारों द्वारा हार्दिक बधाइयां भी ज्ञापित की जा रही है

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

बालभवन स्वतन्त्रता दिवस 2021 के अवसर पर आयोजित प्रतियोगिताएं

वीरांगना अवंति बाई लोधी का बलिदान : प्रो. आनंद राणा इतिहासकार,

मुख्यमंत्री निवास पर लाडो-अभियान की ब्रांड एम्बेसडर ईशिता विश्वकर्मा का गाया गीत “बापू मैं तेरी लाडो हूँ ...”